मौत भी डरती है इस शख्स के घर आने से

इस लेख में हम आपको बताने जा रहे हैं एक ऐसे शख्स के बारे में जो आज 181 साल का हो चुका है और शायद मौत भी इसके घर आने से डरती है।

कहते हैं कि मौत एक ऐसी सच्चाई है जो प्रत्येक व्यक्ति को आना है। बात करें आजकल के समय की तो एक इंसान मुश्किल से 60 या 70 साल ही जी पाता है। आज के समय में 70 या 80 साल जीने के बाद इंसान बस सिर्फ एक ही बात की इच्छा करता है और वह है अपनी मौत का इंतजार। आज हम आपको एक ऐसे ही शख्स के बारे में बताने जा रहे हैं जो पिछले 181 साल से जीवित है। और अपनी मौत का इंतजार कर रहा है। हम बात कर रहे हैं वाराणसी के रहने वाले एक महाशय मुरारी के बारे में जो 181 वर्ष के हो चुके हैं, और पिछले कई सालों से अपनी मृत्यु का इंतजार कर रहे हैं। बात करने पर मुरारी ने बताया कि मैं अब वह अपनी जिंदगी से परेशान हो चुके हैं लेकिन मौत शायद उनके घर आने का रास्ता ही भूल गई है।

मुरारी का जन्म वर्ष 1835 में बेंगलुरु में हुआ था। और 1930 में वह वाराणसी रहने आ गए थे। पेशे से एक मोची का कार्य करने वाले मुरारी ने बताया कि उन्होंने अपनी उम्र का 122 साल तक मोची का कार्य किया। इसके बाद में उन्होंने वर्ष 1957 में इस कार्य से छुट्टी ले ली। इसके बाद लोग उनको देखने के लिए आने लगे। लोग उन्हें देवी शक्ति बताने लगे। उनका कहना है कि वह कोई भी देवी या फिर देवता नहीं है। बल्कि वह तो खुद अपनी मृत्यु का कई वर्षों से इंतजार कर रहे हैं, लेकिन मौत है कि उसकी तरफ नजर ही नहीं डालती।

यदि लेख आपको पसंद आया तो आप हमें फॉलो कर सकते हैं। हम ऐसे ही ज्ञानवर्धक, फायदेमंद, मजेदार, रोचक और समसामयिक लेख आपके लिए लाते रहते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.