पृथ्वी के पास से गुज़रा विशाल क्षुद्रग्रह, बाल-बाल बच गए

वैसे तो अंतरिक्ष में हर घड़ी कुछ न कुछ हल-चल होती रहती हैं कुछ छोटी तो कुछ बड़ी हल-चल होती है। अभी कुछ ही दिन पहले एक विशाल क्षुद्रग्रह धरती के बिल्कुल करीब से गुजरा था । लेकीन उससे एक दिन पहले खगोल वैज्ञानियों को उसका पता चला था। जिससे पृथ्वी को बचाया जा सका ।

इधर नासा का अनुमान है कि यह क्षुद्रग्रह लगभग 48-110 मीटर चौड़ा था और उस क्षुद्रग्रह से 3.6 गुणा बड़ा था जो की 1908 में तुंगुस्का में धरती से टकराने पर 2000 वर्ग किलोमीटर तक साईबेरिया वन को समतल बना दिया था। यह बहुत ही खतरनाक था। जिससे पृथ्वी को नुकसान हुआ ।

नासा के सेंटर फोर नीयर अर्थ ओब्जेक्ट्स स्टडीज ( सीएनईओएस ) के अनुसार 2018 जीई 3 नामक यह क्षुद्रग्रह 15 अप्रैल को अंतरराष्ट्रीय समयानुसार करीब छह बजकर 41 मिनट पर ( भारतीय समयानुसार रात 12 बजकर 11 मिनट पर ) धरती से 192,000 किलोमीटर की दूरी पर गुजरा था । यह दूरी धरती और चंद्रमा के बीच की औसत दूरी का करीब आधी है।

14 अप्रैल 2018 को सबसे पहले अमेरिका के एरिजोना विश्वविद्यालय में नासा केंद्र कैटालीना स्काई सर्वे में खगौलिय वैज्ञानियों के द्वारा जीई 3 नजर आया था। उसके करीब 21 घंटे बाद वह पृथ्वी के करीब से गुजरा लेकीन पृथ्वी को कोई नुकसान नहीं हुआ ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.