नासा चाँद पर जाने से क्यों डर रहा है? चंद्रयान रोबोटिक रोवर वाहन को नासा ने रद्द किया

चंद्रमा का अध्धयन करने वाले वैज्ञानिकों को चौंका देने वाले कदम उठाया गया, राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के लोगों को वापस लेजाने के शपथ के बावजूद, नासा ने चंद्रमा की सतह का पता लगाने वाले एकमात्र रोबोट वाहन रद्द कर दिया है। रिसोर्स प्रॉस्पेक्टर (आरपी) मिशन पर काम कर रहे वैज्ञानिक एक रोबोटिक रोवर पर काम कर रहे थे जो कि चंद्रमा के ध्रुवीय क्षेत्र का पता लगाने के लिए लगभग एक दशक तक विकास में था।

नासा के प्रमुख जिम ब्रिडेनस्टीन को संबोधित करते हुए चंद्र अन्वेषण विश्लेषण समूह द्वारा 26 अप्रैल के पत्र में कहा गया, स कार्रवाई को हमारे समुदाय द्वारा अविश्वसनीयता और निराशा दोनों के साथ देखा जाता है, क्योंकि ट्रम्प की अंतरिक्ष नीति नासा को चंद्र सतह पर जाने के लिए निर्देशित करती है। रोबोटिक रोवर चंद्रमा के ध्रुवीय क्षेत्र की खोज के उद्देश्य से दुनिया के एकमात्र वाहन के रूप में बनाया जा रहा था, और 2022 में लॉन्च होने से पहले अगले साल इसे डिजाइन कर दिया जाता।

1972 में अपोलो 17 के बाद से यह पहला अमेरिकी चंद्र लैंडर था, और चंद्रमा की सतह पर पहला अमेरिकी रोबोट रोवर था। हाइड्रोजन, ऑक्सीजन और पानी जैसे अस्थिर यौगिकों की खोज में आरपी को चंद्रमा की सतह पहला मिशन माना जाता था। नासा ने ऑनलाइन शुक्रवार को एक बयान के साथ जवाब दिया, जिसमें कहा गया था कि आरपी पर कुछ उपकरणों को भविष्य के मिशनों पर उड़ाया जाएगा।

नासा के बयान से यह बात साबित नहीं हुई की आखिर क्यों आरपी रोबोट वाहन रद्द कर दिया है। लोगो के लिए एक बड़ा सवाल यह है की नासा चन्द्रमा पर वापस क्यों नहीं जाना चाहता है। उम्मीद है की जल्द ही इस बात का खुलासा कर दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.