दुश्मनों को नष्ट करने के लिए DRDO बना रहा है E-bomb

दुनिया की चौथी सबसे बड़ी सेना वाला हमारा देश, सबसे तेजी से बढ़ती वैश्विक सैन्य शक्ति से अपनी सशस्त्र बलों के लिए सर्वोत्तम हथियार विकसित कर रही है और अपनी संप्रभुता को बनाए रखने और अपने नागरिकों को किसी बाहरी खतरे के खिलाफ बचाने के लिए सर्वोत्तम हथियार खरीद रहा है।

भारतीय सेना में पहले से ही ब्राह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल, सुखोई सु 30-एमकेआई लड़ाकू विमान, T-90 बैटल टैंक, आईएनएस विक्रमादित्य विमान वाहक इत्यादि जैसे कुछ बेहतरीन हथियार हैं। लेकिन एक देश के लिए शक्तिशाली बने रहने के लिए, उसे अनुसंधान में बहुत निवेश करने और अधिक उन्नत हथियारों और प्रौद्योगिकियों को विकसित करने की जरूरत है।

DRDO E-BOMB- डीआरडीओ एक ई-बम विकसित कर रहा है जो इलेक्ट्रोमैग्नेटिक शॉक वेव उत्सर्जित करेगा और इलेक्ट्रॉनिक सर्किट और दुश्मन बलों के संचार नेटवर्क को नष्ट कर देगा। ई-बम से उत्पन्न विद्युत चुम्बकीय शॉक वेव की लहर, दुश्मन बलों को अपंग कर सकती है और दुश्मन रडार, संचार नेटवर्किंग, सूचना एकत्रण सेंसर, नियंत्रण और अन्य इलेक्ट्रॉनिक उपकरण को भी को नष्ट कर देगा। यह अनुसंधान केंद्र इमारात में विकसित किया जा रहा है जो हैदराबाद में स्थित एक डीआरडीओ शोध सुविधा केंद्र है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.