चंद्रमा पर है तूफानी वातावरण, नासा से किया खुलासा

नासा ने खुलासा किया है कि आठ साल तक बृहस्‍पति की परिक्रमा करने वाले नासा के गैलीलियो अंतरिक्ष यान से मिली जानकारी के अनुसार उसके चंद्रमा गनीमेड पर तूफानी वातावरण का पता चला है।नासा के अंतरिक्ष यान को बृहस्‍पति के चंद्रमा पर कई नए रहस्‍यों का पता चला है जिनमें गनीमेड के आसपास चुंबकीय वातावरण की जानकारी शामिल है जो बृहस्‍पति के खुद के चुंबकीय क्षेत्र से अलग है।

नासा के गोडार्ड स्‍पेस फ्लाइट सेंटर के ग्लिन कोलिंसन का कहना है कि हम बीस साल से ज्‍यादा समय से वैसे डेटा का अध्‍ययन कर रहे हैं जो कभी भी प्रकाशित नहीं किया गया है। लेकिन हमें ऐसी जानकारी मिली है जिनके बारे में किसी को पहले पता ही नहीं था। यह जानकारी बहुत ही महत्‍वपूर्ण है। यह मिशन 2003 में पूरा हो चुका था। दोबारा जुटाई गई जानकारी से बृहस्‍पति के चंद्रमा के वातावरण को लेकर नए तथ्‍यों का खुलासा हुआ है जो सौरमंडल के दूसरे ग्रहों के चंद्रमाओं से अलग है।

नासा ने बताया कि वर्ष 1996 से 2000 के बीच गैलीलियो ने छह बार गनीमेड के चक्‍कर लगाए और उससे जुड़ी जानकारियां इकट्ठी की है। वैज्ञानिकों का मानना है कि चंद्रमा से जुड़ा नया खुलासा बहुत ही महत्‍वपूर्ण है। इनमें गनीमेड के अरुणोदय के बेहद चमकीले होने जैसे रहस्‍य शामिल हैं। इसमें पता चला है कि प्‍लाज्‍मा की बारिश और बृहस्‍पति एवं गनीमेड के चुंबकीय वातावरणों के बीच एक विस्‍फोटक घटना के कारण दोनों के बीच प्‍लाज्‍मा के मजबूत प्रवाह होने से चंद्रमा की बर्फीली सतह से कण फूटे हैं। यह कण काफी छोटे और ठंडे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.