क्या आप जानते है हमारी आंखे कितने मेगापिक्सल की होती है

दोस्तों हम सभी जानते हैं कि हमारी आंखें हमारे लिए कितनी महत्वपूर्ण है। इन आंखों से ही हम इस रंगीन दुनिया को देख पाते हैं महसूस कर पते है। वैसे अभी तक अपने कई मोबाइल फोन खरीदे होंगे और आपकी कोशिश रही होगी कि ज्यादा से ज्यादा मेगापिक्सल से लैस कैमरे वाला ही मोबाइल खरीदने की। ठीक वैसे ही आपके मन मे यह जानने की जिज्ञासा जरूर होगी कि हमारी आंखे कितने मेगापिक्सेल के बराबर होती हैं।

आपने अपने स्कूल के दिनो मे जरूर पढ़ा होगा कि जब प्रकाश किसी वस्तु से टकराकर हमारी आंखों की रेटिना पर पड़ता है। तो उस वस्तु का प्रतिबिंब रेटिना पर बनता है फलस्वरूप रेटिना पर बनने वाले प्रतिबिंब संवेदनाओ द्वारा हमारे मस्तिष्क तक पहुंचता है। जिससे हम लोगों देख पाते हैं।

जब हम घर पर मोबाइल, कंप्यूटर या टीवी इस्तेमाल करते हैं तो उन सभी में एक निश्चित नंबर का मेगापिक्सेल कैमरा होता है। जो किसी भी वस्तु की क्वालिटी को दर्शाता है। एक रिसर्च के मुताबिक साधारण व्यक्ति की आंखों में 24000 इन टू 24000 पिक्सेल के होते हैं। सरल शब्दों में कहे तो व्यक्ति की दोनों आंखें मिलकर जो चारों तरफ के द्रश्य को मस्तिष्क में पहुंचाती है। वह कुल मिलाकर एक बहुत बड़े क्षेत्र की छवि बनाता है जो लगभग 576 मेगापिक्सेल के बराबर होता है।

ऐसी ही रोचक जानकारी पाने के लिए फॉलो की बटन को दबाकर हमारी सदस्यता फ्री मे प्राप्त करे। धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published.