इस सॉफ्टवेयर की मदद से अब DNA की पहचान की जाएगी

शोधकर्ताओ ने डीएनए डाटा विश्लेषण की मदद से एक ऐसी सॉफ्टवेयर प्रणाली विकसित की है, जिसके इस्तेमाल से महज कुछ मिनट में व्यक्ति के डीएनए और कोशिकाओं की सटीक पहचान किया जा सकता है। इस तकनीक के इस्तेमाल से डीएनए में छुपी बीमारी का अंदाजा भी लगाया जाएगा। हालांकि इसका सबसे अच्छा उपयोग कैंसर के प्रयोगों में संक्रमित कोशिकाओं की पहचान करने में किया जाएगा। अमेरिका के कोलंबिया विश्वविद्यालय के यानीव एरलिच ने कहा, ‘हमारा तरीका समाज के लाभ के लिए तैयार प्रौद्योगिकी के नये मार्ग प्रशस्त करना है।

कैंसर अनुसंधान में कोशिका की पहचान करने की क्षमता और नये उपचारों की खोज में तेजी आने की संभावना को लेकर शोधकर्ता बहुत उत्साहित हैं। यह सॉफ्टवेयर ‘मिनआयन’ पर काम करेगा जो क्रेडिट कार्ड के आकार का उपकरण अपने सूक्ष्म छिद्रों के जरिये विभिन्न डीएनए को अपनी ओर खींचता है। इसके बाद वह न्यूक्लियोटाइड या डीएनए के अक्षरों की ए टी सी जी के क्रम का विश्लेषण करता है।

शोधकर्ताओ ने विभिन्न तरह के जीवाणुओं और विषाणुओं के अध्ययन के लिए इस उपकरण का विकास किया गया है, लेकिन इसमें बहुत अधिक गलतियां होने और अनुक्रम में बहुत ज्यादा अंतर होने के कारण अब तक इसका प्रयोग मानवीय कोशिकाओं के न्यूक्लियोटाइड के डीएनए विश्लेषण तक अध्ययन सीमित है। इसे भविष्य में और आधुनिक बनाने की कोशिस की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.