अंतरिक्ष में आपदा, दो उपग्रहों की विनाशकारी टक्कर का खतरा

दशकों में मानवता ने पहले कक्षा में उपग्रहों को लॉन्च किया था, फिर समय के साथ कई उपग्रह अंतरिक्ष में भेजे गए। कुछ उपग्रह ख़राब होकर वही रह गए इन उपग्रह के मल्बे पृथ्वी की कक्षा में घूमने लगे। जिसकी वजह से दूसरे उपग्रहों से टकराने का खतरा बन गया। अंतरिक्ष में दो ऐसी वस्तुओं के बीच केवल चार टक्कर का अभी तक रेकॉर्ड हैं।

लेकिन, विशेषज्ञों का कहना है कि भविष्य में उपग्रह दुर्घटनाएं आम हो जाएंगी। चूंकि अंतरिक्ष अन्वेषण गर्म हो रहा है, इस तरह के टकरावों को कहीं अधिक आम होने की उम्मीद है। शोधकर्ता अंतरिक्ष मल्बे को हटाने और उपग्रह को टकराने से बचाने का प्रयास कर रहे है।

आज के अंतरिक्ष विज्ञान में कई देश अंतरिक्ष के बारे में ज्ञान जितना हासिल करने के लिए सर्वश्रेष्ठ प्रयास कर रहे हैं। लेकिन इन अन्वेषणों के कारण इन दिनों कई स्पेस क्राफ्ट लॉन्च हो रहे हैं और अब एक नई स्थिति बनाई गई है जिसे स्पेस मलबे कहा जाता है। कुछ कार्रवाई की जानी चाहिए। ये मलबे अंतरिक्ष कार्यक्रमों के लिए हानिकारक हो सकते हैं और आधुनिक तकनीकों में एक समस्या पैदा कर सकते हैं।

विशेषज्ञों की टीम पृथ्वी की कक्षा में मौजूद उपग्रहों को टक्कर से बचाने के लिए उपग्रह को अपनी जगह से दूसरी ओर भेजा है। अंतरिक्ष मल्बे को हटाने के लिए अब नई निति और तकनीक को अपनाया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.